कलेक्टर के पैरों में सिर रखकर गिड़गिड़ाया ‘किसान’,अनसुना कर किनारे से निकलकर गाड़ी में बैठ गयी कलेक्टर….. सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियो, तब जाकर मांगे हुई पूरी

शिवपुरी 30 दिसंबर 2018। मध्यप्रदेश से एक बेहद ही शर्मिंदा करने वाली तस्वीर सामने आयी है। यहां एक किसान कलेक्टर के पैर पर गिरकर मदद की गुहार लगाता रहा..लेकिन कलेक्टर मैडम किनारे से निकलकर गाड़ी पर बैठ गयी। किसान साथ लेकर अपनी वो सूखती हुई फसल भी आया था, जो पानी कै बगैर बेकार हो गयी थी। किसान का कहना है कि खेत के पास ट्रांसफार्मर की व्यवस्था नहीं होने की वजह से उसका फसल सूखने के कगार पर है। अगर फसल बर्बाद हुआ तो उसका परिवार भूखों मरने के कगार पर पहुंच जाएगा

कलेक्टर का नाम अनुग्रह पी है। 2011 बैच की आईएएस अनुग्रह पी को हाल ही में शिवपुरी कलेक्टर बनाया गया है।दरअसल रन्नोद इलाके के रिनाइ गांव का रहने वाला अजीत नाम का किसान कलेक्टर अनुग्रह पी से मिलने पहुंचा था।किसान जिले में कोलारस तहसील के अंतर्गत आने वाले रन्नोद इलाके के रिनाइ का रहने वाला है। अजीत अपनी गुहार लेकर कलेक्टर ऑफिस पहुंचा लेकिन अपनी बात जिले की मुखिया तक नहीं पहुंचा पाया। तकरीबन 2 घंटे के इंतजार के बाद जब कलेक्टर मैडम घर जाने के लिए निकली तब किसान उनके पैरों में गिरकर मदद की गुहार लगाने लगा।

इस दौरान कलेक्टर ने किसान से सिर्फ इतना कहा कि अभी यहीं बैठो, मामले की जांच कराते हैं।बिजली कंपनी के महाप्रबंधक आरके अग्रवाल ने रविवार को बताया कि किसान को बिजली कनेक्शन प्रदान किया जा चुका है. मुख्यमंत्री कृषक अनुदान योजना में किसान अजीत जाटव द्वारा पांच हॉर्सपावर के पम्प कनेक्शन लेने के लिए14 अगस्त 2018 को राशि जमा कराई गई थी.

किसान का कहना है कि उसने क्षेत्र के सुपरवाइजर को ट्रांसफार्मर रखने  के लिए करीब 6 महीने पहले पैसे दिए थे। लेकिन अभी तक सुपरवाइजर ने ट्रांसफार्मर नहीं रखा। जिसके कारण उसकी फसल सूखने की कगार पर है। किसान ने बताया कि वह मदद की गुहार लेकर जिले के कई अधिकारियों के पास गया लेकिन कोई सुनवाई नही हुई।

“बहिन जी मेरी सुन जाओ’

कार्यालय से बाहर निकलती सुश्री अनुग्रह पी के पैरों पर किसान अपना सिर रखता हुआ गिड़गिड़ाते हुए कह रहा है कि ‘बहिन जी मेरी सुन जाओ’, मगर जिलाधिकारी उसकी बात नहीं सुनती और कार में जाकर बैठ जाती हैं. तभी एक नेता जिलाधिकारी की कार के करीब आता है, तो जिलाधिकारी अपनी कार का कांच खोलती है और वह नेता जिलाधिकारी को पानी संबंधी समस्या बताता है, उस नेता के पीछे खड़ा किसान अजित अपना दुखड़ा सुनाता है, तब कहीं जाकर जिलाधिकारी उसकी बात सुनती है और जांच की बात कहने के बाद आगे बढ़ जाती हैं.

किसान ने अपनी मांग पूरा कराने बीते दिनों जिलाधिकारी अनुग्रह पी के पैरों पर सिर रखते हुए गुहार लगाई. यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ. मामले ने तूल पकड़ा तो प्रशासन हरकत में आया और रविवार को अजीत जाटव को पांच अश्वशक्ति के पंप के लिए बिजली कनेक्शन दे दिया गया.

Related posts

Leave a Comment